मछलियों के बारे में रोचक जानकारी | information about fish in hindi

 मछ्ली एक जलीय प्राणी है। मछली सिर्फ पानी मे ही रहती है अगर इन्हें आप पानी से बाहर निकाल देते है तो ये मर जाएंगी क्योकि इन्हें पानी से बाहर निकलते ही इनकी त्वचा सुख जाती है और इनके शरीर कठोर होने लगता है इसी वजह से ये मर जाती है। मछली पानी मे इसलिए जीवित रहती है क्योकि इनमे गलफड़ होता है जिसकी सहायता से ये पानी के अंदर ऑक्सीजन ( सांस ) लेती है। मछलियों को सिर्फ एक ही हड्डी होती है वो भी रीड़ की बाकी सब इनमे काटा होता है। मछलियों की प्रजातियां लगभग 28,500 होती है इनमे से कुछ ऐसी प्रजातियां होती है जो कि नदी, झील, तालाब में रहती है और बाकी सब समुन्द्र में रहती है तो आइए इनमे से कुछ ऐसी प्रजातियों के बारे में हम आप को बताते हैं जिन्हें आप पहचानते तो होंगे मगर उनके बारे में जानते नही होंगे तो आइए जान लेते है।

Advertisement

  1. जेलिफ़िश : जेलिफ़िश समुन्द्र में रहने वाला जीव है यह समुन्द्र के गहरे सतह में रहने वाला जीव है, जेलिफ़िश आज तक हर महासागर में पाई गई है। ये पहली बार लगभग 60.5 करोड़ साल पहले दिखाई दिया था। जेलिफ़िश को कई नामों से जाना जाता है जैसे- मेडुसा, ग्रीक, फिनिश, पुर्तगाली, रोमानियाई, हिब्रू, सर्बियाई, क्रोएशियाई, स्पेनिश, फ्रेंच, इतालवी, हंगेरियन आदि नमो से जाना जाता ह। और इस मछली की त्वचा पर बहुत ही जहरीला बाल लगे होते है इसके बाल को जो भी छुता है उसके शरीर मे जहर फैल जाता है इस लिए जब भी कोई इस मछली को देखता है तो इससे दूर भाग जाता है। 
  2. स्टारफिश : यह समुन्द्र में रहने वाला जीव है स्टारफिश समुन्द्र के  गहराई में नही रहते है ये समुन्द्र के बीच में तो कभी किनारे पे रहते है कभी-कभी तो ये समुन्द्र के किनारे पर भी आ जाते है और बाहर निकल जाते हैं। और कई देशों में इसे खाया भी जाता है और इसे स्टारफिश ही क्यों कहा जाता है क्योंकि ये एक तारे की तरह दिखती है इसका पूरा शरीर तारे की तरह बना होता है इसलिए इसे स्टारफिश कहा जाता है। इसे समुंद्री सितारा भी कहा जाता है। स्टारदीश को आम मछलियों की तरह पंख नही होता है इसलिए इसको आम मछलियों से अलग मन जाता है इसको पंख न होने के कारण ये तैर नही सकते है हालाँकि इसका ये मतलब नही हुआ कि ये चल नही सकते ये आसानी से चल सकते है। और हमारे महासागर में इनकी कुल 2,000 प्रजातीय है।
  3. ब्लू व्हेल : पृथ्वी पर रहने वाला सबसे बड़ा जीव ब्लू व्हेल है इसकी लंबाई लगभग 30 मीटर (100 फिट) है और इसका वजन 200,000 किलोग्राम है। और इसके कई अंग अन्य जीवों की अपेक्षा बहुत बड़े है ब्लू व्हेल का आंशिक रूप ब्लू सी से आता है हालाँकि ब्लू व्हेल के बारे में माना जाता है कि ये गहरे नीले रंग के होते है जब वे पानी की सतह पर होते है तो वास्तव में वे ग्रे रंग के दिखाई देते है। जब नीली व्हेल फिर से गोता लगती है तो पानी का रंग और सूरज से निकलने वाली रोशनी आपस मे मिलकर उन्हें गहरे नीले रंग की दिखती है, जैसा कि उनका रंग है। ब्लू व्हेल वास्तव में हल्के भूरे या पीले-सफेद के साथ हल्के से नीले-भूरे रंग के धब्बेदार होते हैं। और उनका उदर (पेट) पिले रंग का होता है। ब्लू व्हेल एक साथ 10 हाथियों को निगल सकती है।
  4. शार्क : यह एक समुन्द्र में रहने वाला जीव है शार्क हमेशा समुन्द्र की गहराई में रहता है यह बहुत ही खतरनाक व विशालकाय शरीर वाला जीव ह। इसकी लगभग 500 प्रकार की प्रजातियां है इनमे से कुछ प्रजातीय बहुत ही खतरनाक एवं बहुत ही बड़े शरीर वाली है इनके शरीर का आकार एक हवाई जहाज जैसा दिखता है। इनकी हर एक प्रजातियों के नाम अलग-अलग होता है। शार्क की लगभग 143 प्रजातियां खतरे में है तो में आप लोगो को इनमे से कुछ प्रजातियों के नाम बताऊंगा-

  •  शार्क अपेक्स प्रेडेटर 
  •  व्हेल शार्क 
  • बौनी लालटेन शार्क 
  • कुकी कटर शार्क
  • कोल्ड-ब्लेडेड शार्क
  • बेशकिंग शार्क
  • ग्रीनलैंड शार्क 
  • लरेंजीनि का एंपुला शार्क

 शार्क डायनशोर से 400 साल पहले की है इनका वजन लगभग 7 टन तक होता है।

ये थी मछलियों से जुड़ी कुछ रोचक जानकारी, इससे जुड़ा आपका कोई भी सवाल हो तो कमेंट में जरूर बताएं और इस लेख को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

Leave a Comment